Desi Chudai Kahani Padhe Online Free. Maa Ki Chudai, Bhabhi Ki Chudai, Teacher Ke Sath Sex, Bhabhi Ki Chut, Lund, Pyasi Bhabhi Ki Chut, Chudai,

मेरी बीवी शादी से पहले मुझ से कैसे चुदी थी. मैंने पहली बार अपनी होने वाली बीवी के मम्मों को छुआ था जिस से वो नाराज हो गई थी. इस चुदाई स्ट...

शादी से पहले सुहागरात की चुदाई स्टोरी-2


मेरी बीवी शादी से पहले मुझ से कैसे चुदी थी. मैंने पहली बार अपनी होने वाली बीवी के मम्मों को छुआ था जिस से वो नाराज हो गई थी. इस चुदाई स्टोरी में आप इस घटना का मजा ले रहे थे.
अब आगे..

वो नाराज़ हो गई, मैं पूनम को मनाने लगा.
पूनम बोली- ये ग़लत है शेखर… आप को ये सब नहीं करना चाहिए, क्योंकि हमारी अभी शादी नहीं हुई है.
मैंने कहा- पूनम आई लव यू… और हम अब पराए नहीं है.. हम दोनों पति पत्नी बनने वाले हैं.
इस पर पूनम ने कहा- चलो कोई बात नहीं लेकिन प्लीज़ कंट्रोल करो.
फिर मैंने पूनम को हग किया और उससे कहा- अच्छा बाबा सॉरी, लाओ आप की ब्रा का हुक़ लगा दूँ.

उसने फिर अपना ब्लाउज खोला और ब्लाउज खोलते ही मैंने झट से पूनम के ब्रा का हुक़ लगा दिया. लेकिन मैंने ब्लाउज को पकड़ लिया और कहा कि पूनम अब आपको ब्लाउज ऐसे ही नहीं बंद करने दूँगा. पहले ब्रा का हुक़ लगाने का जो टैक्स है वो आपको देना पड़ेगा.
तो पूनम बोली- बेशर्म कहीं के.. कैसा टैक्स?
मैंने कहा- एक लंबा वाला किस.. आपकी पीठ पर..
तो वो बोली- आप बहुत बेशर्म होते जा रहे हो..

उसने किस करने की इजाज़त दे दी और ब्लाउज ऊपर कर मैं ब्रा के ऊपर से ही उस की पीठ को चूमने लगा. उस की मस्त पीठ को चूमते हुए मैं पूनम के पेट पर हाथ फेरने लगा.
पूनम के मुँह से हल्की सिसकारी निकलने लगी और उसका भीगा बदन मेरी बाँहों में था. यूं ही चूमते चूमते मेरा एक हाथ पूनम के मम्मों पर तो दूसरा हाथ पूनम के कूल्हों पर घूमने लगा. शायद पूनम को मजा आने लगा और वो आँखें बंद कर ‘आअहह आअहह इसस्स्स्स्शह..’ करने लगी.



अब मैंने पूनम को पलटाया और उसको लिप किस करने लगा और लिप किस करते हुए उसके गले को चूमते हुए उसकी ब्रा के ऊपर से उसके मस्त मम्मों पर मेरा मुँह आ गया. जैसे ही मेरा मुँह मम्मों पर आया, पूनम ने झट से मुझे धक्का देकर दूर कर दिया और झोपड़ी से बाहर आकर उसने अपने ब्लाउज का हुक़ लगा लिया. फिर वो जाकर कार में चुपचाप बैठ गई और रोने लगी.

मैंने पूछा- पूनम क्या हुआ.. तुम रो क्यों रही हो?
तो पूनम बोली- शेखर जो अभी हो रहा था, वो ठीक नहीं था.
मैंने फिर उसके गुदगुदी करते हुए कहा- पूनम आई लव यू यार… यू आर माय वाइफ.. और हस्बेंड वाइफ के बीच सब कुछ होता है.
ये सुन पूनम हंसने लगी और बोली- चलो बारिश हो रही है, घर चलो.. शाम को मिलते हैं.

फिर रास्ते में कार में चलते हुए मैंने पूनम को छेड़ना शुरू किया और इस छेड़खानी में मैं पूनम के कभी मम्मों पर हाथ लगाता तो कभी कूल्हों पे पिंच करता.

ऐसे करते करते मैंने पूनम से पूछा- पूनम तुम्हारा फिगर क्या है?
तो पूनम ने हंसते हुए बोला- आपने अभी नापा नहीं क्या.. जब आप हाथ लगा रहे थे?
मैंने कहा- हाथ से क्या पता चलता है. तुम ही बताओ क्या है?
पूनम ने कहा- बेशर्म कहीं के.. मेरा 38-30-36 का है.

इसके बाद मैंने पूनम को घर छोड़ा और फिर मैं शाम होने का वेट करने लगा. अब मेरे अन्दर का शैतान जाग उठा था और मैंने डिसाइड किया कि पूनम को मैं कैसे भी कर के चोद कर ही रहूँगा.
शाम होते ही मैं तैयार हो कर पूनम के पास चला गया और उसे लेकर मैं अब की बार एक होटल में गया.

पूनम ने मुझ से पूछा कि यहाँ घूमने लायक क्या है?
तो मैं बोला- पूनम, यहाँ मैं तुमको कुछ दिखाने लाया हूँ.
पूनम बोली- ऐसा क्या दिखाना चाहते हो?
मैंने कहा- अभी तुम चुप रहो.. बस देखती जाओ.

मैंने वहां एक रूम लिया और हम उस रूम में चल दिए और रूम में जाने के बाद मैंने दरवाजा लॉक कर दिया और लॉक कर के मैंने पूनम से बोला कि पूनम तुम मुझे ये बताओ कि तुम मुझसे कितना प्यार करती हो?
तो पूनम ने कहा- शेखर ये भी कोई पूछने की बात है, आप मेरे हज़्बेंड हो और मैं आपको दिल ओ जान से प्यार करती हूँ.

इतना कहते ही मैंने पूनम को हग कर लिया और उसकी कमर को सहलाने लगा और अबकी बार पूनम ने भी मुझे टाइट्ली हग कर लिया था.
इस टाइम पूनम ने ब्लैक कलर की साड़ी पहनी हुई थी.

उसको हग करते हुए मैंने पूनम से कहा- आई लव यू पूनम..
पूनम ने भी मुझे बोला- आई लव यू टू शेखर..
मैंने कहा- पूनम तुमको मैं बहुत ज़्यादा प्यार करना चाहता हूँ.
तो इस पर पूनम अब समझ चुकी थी कि मेरा क्या इशारा है, पूनम बोली कि शेखर शादी से पहले ये सब ठीक नहीं है.

मैंने कहा- पूनम हमारी शादी तो होनी ही है लेकिन दिल में जो आग अभी लगी हुई है उसे कैसे बुझाएं?
इतना कहते ही मैं पूनम को लिप किस करने लगा और पूनम के कूल्हों को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा.
पूनम बोली- शेखर प्लीज़ कंट्रोल करो वरना कुछ हो जाएगा.
मैंने कहा- पूनम आई लव यू उउम्मुमूमूमूं.

मैंने उसकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया. मैंने पूनम का पल्लू नीचे गिराया और ब्लाउज के ऊपर से पीठ को चूमते हुए पूनम के मम्मों को मसलने लगा था.

पूनम अब मदहोशी में खोई जा रही थी. तभी मैंने पूनम की ब्लैक साड़ी को खींच कर निकाल दिया और उसे बेड पर लेटा कर उसकी नाभि को चूमने लगा.. उसके चिकने पेट पर हाथ से हल्की हल्की गुदगुदी करने लगा.

पूनम के मुँह से अब सिसकारियां निकलना शुरू हो गई थीं. मैं अब पूनम के ऊपर चढ़ गया और पूनम के मम्मों को ब्लाउज के ऊपर से ही चूमते हुए अपने एक हाथ से पेटीकोट के ऊपर से पूनम की चुत को सहला रहा था.

मैंने जैसे ही पूनम की चुत को हाथ लगाया, पूनम के मुँह से ‘आआहह..’ की तेज़ सिसकारी निकली.

मैंने देखा कि पेटीकोट के ऊपर ही कुछ गीला गीला चिपचिपा सा पानी आ गया. दोस्तो पूनम की चुत गीली हो चुकी थी. मैंने वो पानी पेटीकोट के ऊपर से ही चूसना शुरू किया, तो पूनम के मुँह से अजीब सी सिसकारी निकलने लगी. ‘आऐई.. यईई.. याई.. ययैह.. इसस्स्सह श्श्शह.. श्श्सस..’

मैंने पूनम का ब्लाउज उतार दिया. आह दोस्तो ब्लैक ब्रा में क्या पटाखा लग रही थी मेरी पूनम.
मैंने मम्मों को मसलना शुरू किया, पूनम ‘आआहह.. अहह.. उम्म्ह… अहह… हय… याह… उहआ..; किए जा रही थी.

मैंने पूनम को उल्टा कर दिया और पीठ को चूमते हुए उसकी ब्रा का हुक़ खोल दिया और ब्रा को निकाल फेंका. अब मैं पूनम के मम्मों को मुँह में लेकर उनका दूध चूस रहा था. पूनम की सिसकारियां और तेज़ होने लगी थीं ‘अहहहाहाह श्श्शह.. उहह..’
मैंने पूनम के पेटीकोट का नाड़ा खोल उसका पेटीकोट खींच कर निकाल दिया. दोस्तो मैंने देखा पूनम ने ब्लैक कलर की नेट वाली पेंटी पहनी हुई थी और पेंटी की नेट पूरी चुत के पानी से गीली हो रही थी.

मैंने देर ना करते हुए उसकी पेंटी उतार दिया और उसकी चुत को चाटने लगा. पूनम मेरे सिर को अपनी चुत में दबा रही थी और ‘आआहह.. स्शस..’ कर रही थी.

मैंने पूनम को बेड पर सीधा चित लेटा दिया. पूनम की आँखें बंद थीं. पूनम मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी. मैंने तुरंत मेरे मोबाइल से उसका एक फोटो ले लिया, मैंने पूनम को उल्टा किया और उसके कूल्हों को मसल मसल कर चूमने लगा और पूनम को सीधा कर मैंने उसकी टांगें चौड़ी कीं और उसकी गुलाबी चुत पर मेरा हथियार रख कर चुत में धकेलने की कोशिश करने लगा. लेकिन पूनम की चुत गीली होने की वजह से मेरा लंड फिसल गया.

अब मैंने मैंने अपना लंड हाथ से पकड़ कर पूनम की चुत पर रख कर धक्का दिया. मेरा करीब एक तिहाई लंड चूत में घुस गया, जिससे पूनम को बहुत तेज़ दर्द हुआ और ‘आआऐय्य.. आअह.. मैं मर गई शेखर..’ कह कर रोने लगी.
वो तड़फ कर बोली- शेखर निकालो… बाहर निकालो इसे.. प्लीज़ बहुत दर्द हो रहा है..

मैंने तुरंत पूनम के होंठों पे अपने होंठ रख दिए और चूमने लगा. और देखते ही देखते एक ज़ोर का झटका मैंने लगाया, जिससे मेरा पूरा लंड एक साथ पूनम की चुत में उतर गया. पूनम दर्द के मारे कराहने लगी और मैं लंड घुसा कर वहीं रुक गया.
अब मैंने देखा पूनम की आँखों से पानी और चुत से खून बहने लगा है.

थोड़ी देर में दर्द कम होने के बाद मैंने अपने लंड को हिलाया और अन्दर बाहर करने लगा. अब धीरे धीरे पूनम को मजा आने लगा और मैंने पूनम की चुदाई शुरू कर दी. चुदाई करते करते पूनम मुझसे तेज़ी से जकड़ने लगी और झड़ गई.

मैंने चुदाई जारी रखी, पूनम को मैंने अब डॉगी स्टाइल में खड़ा किया और लंड को चुत में घुसा कर फिर चुदाई शुरू की. चुदाई करते हुए मैं पूनम की पीठ को चूम रहा था और मम्मों को मसल रहा था. करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने लंड बाहर निकाला और पूनम के मम्मों के बीच लंड को सैट करके उसके मम्मों से लंड की मुठ मारना शुरू कर दी. कुछ देर में ही मैं उसके मम्मों पर झड़ गया.

लंड झड़ने के बाद मैं लेट गया और पूनम मेरे ऊपर आकर मेरे सीने को चूमने लगी.. मेरे ऊपर आकर पूनम ने मेरे लंड की अपनी चुत से मालिश करना शुरू किया. इससे मेरा लंड दुबारा खड़ा हो गया.

मैंने कहा कि पूनम तेरे कूल्हे बहुत मस्त हैं.. क्या तुम्हारे कूल्हों को मेरे लंड का प्यार दे दूँ.
तो पूनम बोली- चल बेशर्म कहीं के.. मेरी जान निकल जाएगी.
“नहीं निकलने दूँगा रानी.”

तब तक पूनम ने मेरा लंड खुद ही अपनी चुत में घुसा लिया और मेरे ऊपर लेट गई. थोड़ी देर में हम ऐसे ही सो गए, जब हम जागे तो पूनम से बिल्कुल खड़ा नहीं हुआ जा रहा था. वो अपने पैरों को चौड़ा कर चल रही थी. मैंने उसे सहारा दिया और बाथरूम में ले गया. मैंने उसे अपने हाथों से नहलाया और अपने ही हाथों से उसे कपड़े पहनाए.

पूनम से मैंने कहा- आई लव यू पूनम!
‘आई लव यू टू शेखर..’ वो मेरे गले लग गई.

बाद में उसने बेड पर देखा कि बेडशीट पूरी लाल हो रही है.

तो उसने पूछा- ये कैसे हुआ?
मैंने बताया कि ये तुम्हारी चुत से निकले हुए खून से हुआ है.
तो पूनम घबरा गई और बोली कि शेखर मुझे डर लग रहा है, कहीं कुछ ग़लत तो नहीं हुआ, कुछ गड़बड़ तो नहीं होगी?
मैंने कहा- मेरी प्यारी पूनम कुछ नहीं होगा और पूनम हम हज़्बेंड वाइफ हैं, कोई कुछ नहीं बोलेगा, तुम बस ये बातें तुम्हारे और मेरे तक ही रखना.
पूनम ने कहा- ओके शेखर ठीक है.

फिर पूनम को मैंने उसकी फ्रेंड के घर छोड़ा, मैं उसको एग्जाम दिला कर लाया और वापिस दिल्ली जाने से पहले उसकी दुबारा चुदाई की.

मैंने कहा- पूनम मैं नेक्स्ट महीने तक तुम्हारे बिना कैसे रहूँगा?
तो पूनम ने अपना मोबाइल नंबर मुझे दिया और कहा कि जब भी मैं आपको मैसेज करूँ तो ही आप मैसेज करना.

इसके बाद पूनम चली गई और फिर मैं रोज़ाना पूनम से मैसेज से चैट करता और हम सेक्स चैट भी करते रहे.

0 comments: