Desi Chudai Kahani Padhe Online Free. Maa Ki Chudai, Bhabhi Ki Chudai, Teacher Ke Sath Sex, Bhabhi Ki Chut, Lund, Pyasi Bhabhi Ki Chut, Chudai,

चाचा लगातार धक्के मार रहे थे, मेरी चूत से फच फच की आवाज आ रही थी, मेरी चूत गीली हो रही थी, पर मैं बिल्कुल घबरायी नहीं क्योंकि अब मुझे दर्...

चाचा ने दोस्तों से मिल कर भतीजी को चोदा-2


चाचा लगातार धक्के मार रहे थे, मेरी चूत से फच फच की आवाज आ रही थी, मेरी चूत गीली हो रही थी, पर मैं बिल्कुल घबरायी नहीं क्योंकि अब मुझे दर्द कम हो रहा था.
तभी चाचा बोले- साली आरती, तेरी चूत बहुत टाइट है रे, ज्यादा नहीं चुदवाई है क्या?
मैंने अंकल का लंड मुंह से निकाल कर बोली- नहीं चाचा, सिर्फ आज तक मैंने सिर्फ एक बार लंड चूत में लिया था वह भी अपने ट्यूशन वाले सर का… पर उन्होंने पूरा नहीं चोदा था, मेरी चूत में वो लंड सिर्फ टच कराया था, डाला नहीं था, मेरी गांड में जरूर डाला था और जम के चोदा था मेरी गांड को… वो गांड का शौकीन था. पर मेरी चूत मारी नहीं थी, आज आप पहले व्यक्ति हो जिसने मेरी चूत का सील तोड़ा, देखो खून निकल आया होगा!

चाचा ने देखा तो मेरी चूत से खून निकल रहा था, चाचा बोले- आरती मेरी रखैल, मेरी रंडी आज मैंने सच में तेरी चूत की सील तोड़ी, आज से तू मेरी बीवी और रखैल हो गई, मैं तुझे बहुत चोदूंगा और सबसे चुदवाऊंगा, तुम बहुत सेक्सी हो! अब बता दर्द हो रहा है क्या?
मैं बोली- नहीं चाचा, जम के डालो, खूब चोदो मुझे और इन लोगों से भी बोलो कि सब चोदें!
तभी चाचा जोश में आकर मुझे जोर जोर से धक्के मारने लगे और 5 मिनट बाद खाली हो गए.

तभी चाचा ने बोला- यार बृजेश, तू आ जा और आरती की चूत में डाल दे लंड… मैं तो झड़ गया, यह बहुत प्यासी है, अभी इसका पानी नहीं निकला!
तब जो अंकल मेरे मुंह में लंड डाले थे, वह आ गए और मेरी टांग ऊपर कर के मेरी चूत में लंड फंसा कर जोर से धक्का दिया. मैं होश में नहीं थी, मैंने बोला- आप सब लोग अपनी बीवी बना लो मुझे या रखैल बना लो, मैं रंडी भी बन जाऊंगी तुम्हारी!



अंकल ने जोर से लंड डाला और पूरा घुसा दिया. मुझे दर्द नहीं हो रहा था, अब मैं जम के चुदवा रही थी.
तभी एक अंकल बोले- यार, आरती के नीचे मैं हो जाता हूं और इसकी मस्त गांड में मैं अपना लंड डाल देता हूं, आरती तुझे बहुत मजा आयेगा अगर एक साथ चूत और गांड चुदवाओगी. बोलो आरती, घुसाऊं लंड तेरी गांड में?
मैं बोली- हां अंकल चोद दो मेरी गांड! और जहां जहां मन हो, सब जगह लंड डालो न!
अंकल बोले- चल उठ आरती, मैं नीचे होकर तेरी गांड में घुसा दूं!

जो अंकल चूत में डाले थे, बोले- ठीक है, तू आ जा और इसकी गांड में डाल दे, और मैं इसकी चूत में डाल कर चोदता रहूंगा.
मैं उठ गई और अंकल ऊपर आ गए. फिर अंकल ने मेरी गांड को चाटा, थूक लगाया और अपना लंड मेरी गांड में घुसा दिया, बोले- आरती, तेरी गांड आज के पहले कभी किसी ने चोदी है?
मैंने कहा- सच बात बताऊं, अब तक दो तीन बार मेरे ट्यूशन वाले सर ने सिर्फ गांड ही चोदी, आज तुम लोग मेरी गांड चोदो!

और अंकल ने जैसे ही पूरा लंड अन्दर गांड में घुसेड़ दिया, बहुत दर्द हुआ, मेरी आंख से आंसू आने लगे, मैं बोली- निकालो लंड… बहुत मोटा है अंकल आपका.. मैं मर जाऊंगी.
पर मेरी एक नहीं सुनी और मेरी गांड पर लंड पूरा का पूरा डाल दिया, अब गांड में उनका पूरा लंड फंस गया, धीरे धीरे मुझे चोदने लगे, तभी अंकल ने मेरी गांड पर जोरदार धक्का लगाया, मैं रोने लगी, चिल्लाने लगी पर किसी ने मेरी आवाज नहीं सुनी और मेरी गांड जम कर चोदने लगे.

तभी सामने वाले अंकल ने चूत में डाल दिया, और एक अंकल ने मेरे मुंह में दाल कर मेरा मुख चोदन करने लगे!
अन तीन तीन लोग मुझे चोदने लगे.

“आरती तू एक नंबर की रांड है. साली कुतिया छिनाल, ऐसा सिर्फ ब्लू फिल्मों में होता है जैसे आज तुझे हम लोग चोद रहे हैं, आज हमारी लाइफ बना दी तुमने आरती!” वे सन जाने क्या क्या बोल रहे थे.
अब मेरी गांड का दर्द कम हो गया, मुझे गांड में भी जम कर मजा आने लगा, मैं अंकल से बोली- रोज मुझे ऐसे ही कुतिया बना कर चोदना अंकल… आप लोग बहुत अच्छे हैं, ऐसे ही मुझे दारु पिला दिया करना और फिर जम के चोदा करना!

अंकल बोले- आरती, तू सतना की सबसे बड़ी रंडी कहलाएगी एक दिन! हम तेरे लिए कई मर्द लाएंगे, बोल कितने लोगों से एक साथ चुदाई करा लिया करेगी?
मैं बोली- अंकल चाहे जितने लोगों से चुदवाना, बस मेरी चूत में हमेशा लंड घुसा रहे! 24 घंटे चोदते रहे कोई ना कोई… चुदाई मेरी कभी बंद ना हो!
मैं फुल जोश में थी, मुझे अभी कुछ होश नहीं था कि मैं क्या बोले जा रही थी?

अंकल बोले- आरती तू एक काम कर, अभी बोल और कितनों से चुदेगी?
मैं बोली- तुम सोचो?
तभी जिनकी गाड़ी थी, वह अंकल बोले- आरती को किसी ढाबे पर ले चलो, खड़ी करना और वहीं इस पर तीन चार लंड एक साथ डालेंगे.

वो लोग लगभग 20 मिनट मेरी गांड और चूत को चोदते रहे, तभी ड्राइवर को बोले- गाड़ी खड़ी कर दे, आगे ढाबा है.
और ड्राइवर को बोले- ढाबा मालिक को बुलाओ!
ढाबा मालिक आया, उससे सीधे बोले- एक छिनाल है, मस्त माल है यह, हम लोग इसे चोदेंगे, तुम भी चोद लेना या पैसा ले लेना, हम एक जगह दे दो अलग!
ढाबा मालिक बोला- पर यहां थाने के कुछ लोग बैठे हैं, उनको लड़की चाहिए, वे लोग भी चोदेंगे पहले… फिर तुम लोग आराम से रात भर रुकना और जम के चुदाई करते रहना!
चाचा बोले- मंजूर है.

तब ढाबा मालिक बोला- पहले आइटम तो दिखाओ?
अंकल ने अंदर गाड़ी की लाइट जला दी और मुझे दिखाया.
चाचा ने बोला- आरती नाम है इसका, मेरी भतीजी है, इसको कोई दिक्कत नहीं चाहे जितने लोग इसके साथ सेक्स करें, बहुत ज्यादा प्यासी है ये बहुत चुदासी है.
चाचा ने मुझे उठाया, एक तौलिया दिया, बोले- इसे थोड़ा ओढ़ लो!

मैं सिर्फ टावल में अंदर गई, अंदर ले गए एक रूम में… तीन लोग आए और मुझे देख कर एक सिपाही मेरे टावल के अंदर हाथ डाल कर मेरी चूत में हाथ डाला और निकाला बोला- नाम क्या है इसका? कहां से आई है?
मेरे चाचा बोले- सतना की है, मेरी भतीजी है, आरती नाम है इसका!
वो बोला- इसकी चूत बहुत गीली है, अभी चुद रही थी कि इतनी चुदासी है?
चाचा बोले- चुदाई चल रही थी और चुदासी भी बहुत है।

वो तीनों मुझे बस घूरते रहे. तभी एक जो करीब 25 साल का लड़का था, बोला- अंकल आप अपनी भतीजी को?
चाचा बोले- पहले थी… पर इसके हुस्न ने मुझे पागल बना दिया, आज से ये मेरी बीवी है, मेरी रखैल है.
वो लड़का बोला- बहुत सही जा रहे हो अंकल! तो अब आप इस कमरे से जाइये ताकि आपकी बीवी आरती को हम लोग भी चोद लें!
चाचा बोले- क्यूं नहीं, जम के चोदिये. लेकिन बुरा न मानें तो मैं देखना चाहता हूं आरती को दूसरों से चुदाई कराते हुए!

वो तीनों एक दूसरे की ओर देखे, फिर बोले- शौक से देखिए, तुम्हारी भतीजी है, तुम्हारी रखैल है, हम लोग वैसे भी जल्दी जायेंगे, ड्यूटी पर हैं, जाने वाले थे पर इस आरती की किस्मत अच्छी थी जो हम लोगों से चुदेगी और हमेशा याद करेगी इस चुदाई को!

तभी तीनों मेरी तरफ बढ़े, मैं पहले से बहुत गर्म थी, जैसे ही तीनों मेरे पास आये, मैं एकदम एक्साइटेड हो गई. जो जवान लड़का था, उसने मेरे तौलिये के नीचे से हाथ डाल दिया और मेरी चूत में अपने हाथ लगाया देखा कि उंगली में थोड़ा खून लगा है. तो बोला- आरती, तुम आज ही अपनी सील को तुड़वाई हो?
मैंने कहा- हां जी, मेरे चाचा ने ही आज मेरी सील तोड़ी है, अभी अभी 1 घंटे पहले!

तीनों खुश हो गए और मेरा तौलिया उतार फेंका, देखते ही बोले- तेरे चाचा बहुत लकी हैं पर अभी हम तीनों तुम्हें चोद चोद कर बहुत मस्त कर देंगे, तुम हमें ढूंढते फिरोगी कि कैसे भी वे तीनों मिल जाएं और फिर से जम के चोदें!
ऐसा कहते ही जो बड़े वाले अधिकारी लग रहे थे, उसने मुझे गोद में उठा लिया. मैं पूरी नंगी थी, मेरे दूध अपने होठों में भर लिए। वहां एक ही बिस्तर लगा था, उसी बिस्तर में ले जाकर लिटा दिए.

मेरे चाचा ने अपनी पैन्ट खोल कर उतार दी, उनका लंड एकदम खड़ा था, वो मेरे सामने खड़े हो गए और बोले- बहुत चुदासी है मेरी भतीजी!
उनका लंड पहले से ज्यादा खड़ा हो गया, लगता है मुझे दूसरों से चुदते हुए देखना उन्हें बहुत पसंद है. वो उन लोगों को बोले कि मेरी आरती को जम के चोदो, संकोच मत करना!
मुझसे बोले- आरती मेरी रंडी, ये तीनों जम के तुझे चोदेंगे, अधिकारी हैं तीनों, फुल इंजवाय कर!
मैंने कहा- जी चाचा!

तभी उन तीनों ने अपना पैन्ट उतार दी, तीनों मेरे सामने नंगे हो गए, एक मेरे मुंह में अपना लंड डाल दिया, दूसरा बोला- मैं तो इसकी खून भरी चूत चाटूंगा, आरती अपनी टांग फैला!
और मेरी टांग पकड़ कर फैला दिया, मेरी खुली चूत उसके सामने थी, वो बोला- ओहहह माई गॉड आरती, क्या गजब की पिंक चूत है तेरी… लाखों में किसी एक की ऐसी चूत होती है, तू बहुत हाट लड़की है!
और अपनी जीभ निकाल कर चाटने लगा, मेरी चूत चाट चाट के पूरी तरह से साफ कर दी. मेरी चूत में लंड का रस भी था, उसको भी चाट गया.

मैं चिल्लाने लगी, बोलने लगी- तीनों चोदो जम के… मैं बहुत चुदासी हूं.
मैंने कहा- सुनो अभी मुझे जम के चोदो, मुझे पागल कर दो! ऊं हहह आहह!

तभी जो बड़े अधिकारी थे, बोले- तीनों एक साथ लंड डालेंगे, सोच ले आरती!
मैंने कहा- कुछ भी करो, बस घुसा दो सर!
तभी जवान लड़के को बोले- बलवीर, तू आरती की चूत में डाल, मुझे इसकी गांड पसंद है, मैं इसकी गांड को चोदूंगा.
और जो तीसरा था, उसे बोले- तू मुंह में लंड डाल.

मुझे अब टेढ़ा कर दिया और सामने मेरे चूत में वो यंग लड़का आकर चिपक गया, बहुत मस्त था वो… मैंने अपने हाथ से उसका लौड़ा पकड़ लिया- अरे बाप रे, यह तो बहुत बड़ा है!
तो बोला- लड़कियां तरसती हैं ऐसे लंड को!
मैं बोली- सच में मुझे बहुत मजा आया तुम्हारा लंड पकड़ कर!

लंड को मैंने ऊपर नीचे हाथ से करना शुरू किया और फिर अपनी चूत में डालने के लिए फिट कर लिया और उसके सीने से चिपक गई, बोली- घुसा दो अपनी आरती की चूत में मेरे हीरो!
उसने बोला- अभी मेरी डार्लिंग!
और मेरे बूब्स मुंह में भर कर चूसने लगा. मुझे सच में जन्नत की सैर करा दी.

तभी बड़े वाले अधिकारी मेरे चूतड़ों को फैला कर मेरी गांड चाटने लगे, मुझे अजीब सी गुदगुदी होने लगी, मैं होशो हवास खोने लगी, तभी वो बोला- आरती मेरी जान आज तक मैंने बहुत गांड मारी पर तेरे जैसी चिकनी लाल मस्त गांड नहीं मारी!
और फिर अपनी जीभ को मेरी गांड में डाल दिया और उसे चूमने चाटने लगे. मैं और मदमस्त हुई जा रही थी कि तभी उसने मेरी गांड में बहुत सारा अपना थूक लगाया और कहा- आरती, मुझसे शादी कर ले, तेरी गांड का मैं दीवाना हो गया!
कहते हुए अपना मस्त लंड मेरी गांड में घुसेड़ दिया. मैं चिल्ला उठी!

इतने में तीसरे अधिकारी जो थे, वो सामने आकर मेरे होंठों को चूसने लगे, चाटने लगे और फिर अपने लंड को मुंह में मेरे डाल दिया और अंदर बाहर करने लगे.

तभी सामने वाले यंग लड़का भी जोर से अपना मस्त लंड मेरी चूत में एक ही झटके में पूरा डाल दिया, मुझे लगा कि मर जाऊंगी, मेरी आँखों से आंसू निकलने लगे, बहुत दर्द हो रहा था, मुंह में लंड घुसा था इसलिए चिल्ला भी नहीं पा रही थी।
अब मेरी चूत में गांड में और मुंह में तीनों जगह एक साथ लंड अन्दर बाहर हो रहे थे, बहुत तेज दर्द हो रहा था, सबके लंड बहुत बड़े और मोटे थे। जोर जोर से मुझे तीनों एक साथ चोदने लगे.

तभी चाचा मेरे सामने आकर खड़े हो गए और बोलने लगे- चोदो… क्या मस्त चूत है, 3 – 3 लंड ले रही है. आरती तू बहुत लकी है, मस्त चोदो आप तीनों! इसे रंडी बनना है, आरती बहुत बड़ी माल है, और चोदो, तीनों एक साथ जोर से डालो इसकी चूत में… बहुत चोदो!
और अपना लंड हाथ में लिए ऊपर नीचे करने लगे.

चाचा मुझे बोले- तुझे चुदते हुए देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा है आरती, लग रहा है कि क्या कर डालूं!
तीनों लंड से जम के हो रही चुदाई और उन सब की गन्दी गन्दी बातें और गालियां सुन कर मैं फुल एक्साइटेड होने लगी और मेरा पूरा दर्द खत्म हो गया, अब मुझे बहुत मजा आने लगा. तभी जो अंकल मुंह में डाले थे, उन्होंने अपने लंड का रस मेरे मुंह में भर दिया और मैं गट से पी भी गई और लंड को पूरा चाट चाट के उनका लंड साफ कर दिया.

पहली बार लंड रस पिया था, ऐसे लगा जैसे इससे टेस्टी दुनिया की कोई चीज नहीं, वो साहब जिनका मुंह में लंड था वो चले गए.
जैसे मुंह खाली हुआ, मैं चिल्लाने लगी जोश में- और मेरी गांड में डालो सर, मेरी गांड में पूरा लौड़ा डालो! बहुत जोर से डालो यार!
चाचा को बोली- तुम भी अंदर डाल दो चाचा, हाथ से क्यों लंड रगड़ रहे हो, तुम्हारी रंडी आरती तुम्हारा भी लंड चूस के खाली कर देगी. मेरे अंदर डालो आज!
और फिर चाचा को बोली- आज तुम भी डाल दो चूत में या गांड में… दो दो लंड एक साथ डाल दो, बहुत मन कर रहा है, अब आ जाओ।

चाचा बोले- तुझे चुदते देखने में ज्यादा मजा आ रहा है आरती, तू क्या स्टाइल से चुदवा रही है, ऐसा सीन किसी ब्लू फिल्म में आज तक नहीं देखा! एक दम कयामत लग रही है चुदवाते हुए तू, मैं सबको लाया करूंगा तेरे लिए और मेरे सामने तू ऐसे चुदवाना कभी 3 कभी 4 कभी 5 लंडों से… बहुत मजा आ रहा है. क्या मस्त चूत है तेरी… और क्या लंड ले रही है. आरती बहुत मज़ा आ रहा है तुम पागलपन की हद तक चुदाई करवाती हो, अभी इन लोगों से तू चुदवा, मैं तुझे बाद में चोदूंगा, अभी देखने में बहुत मजा आ रहा है.

तभी वो यंग वाला लड़का, जिसका लंड चूत में था, जोर से रगड़ने लगा और बोला- आरती सम्हाल खुद को!
और बहुत जोर जोर से धक्का लगाने लगा और वोहहहह आहहहह करते हुए अपना लंड रस मेरी चूत में भर दिया और मेरे होंठों को चूमने लगा.

फिर वो उठ गया खाली होकर!
अब जो बड़े साहब थे, जिनका लंड गांड में घुसा था, वो चोदे जा रहे थे, बोले- क्या मस्त माल है तू आरती! आज तक ऐसे गांड किसी ने नहीं चुदवाई!

मैंने गांड और उठा दी और बोली- फुल स्पीड से चोदो सर, बहुत मजा आ रहा है. फाड़ दो मेरी गांड को! आज मेरी सुहागरात है, आज फर्स्ट चुदाई की रात है.
वो सर बोले- आरती, तेरी बातें सुन कर सब चोदने वाले दुगना इकसाईटेड हो जाते हैं और पागल कर देती है तू! मैं अब गया!
और वो पूरा घुसेड़ कर गांड में लंड का वीर्य गर्म गर्म गिराने लगे और ‘ऊं हहह वोहह हहह आरती… तू बेस्ट है!’ उठ गये।

ऐसे चुदाई हुई मेरी पहली ही बार में!

0 comments: